About us - Privacy Policy - Disclaimer - Contact us - Guest Posting

Inline Related Posts plugin settings kaise kare

आज इस Tutorial में हम आपको बताने जा रहे हैं कि Inline Related Posts plugin settings kaise kar sakte hai. जबकि मैने अपनी ‌पिछली ‍पोस्ट में आपको बताया था कि Limit Login Attempts settings (WP security) कैसे करते हैं। यह पोस्ट every Blogger के लिए बहुत ही important है, क्योंकि ये ब्लॉग के SEO से related है। जब हम अपने ब्लॉग के लिए कोई भी article लिखते हैं तो उसमें हमें कुछ internal linking करने की भी जरुरत पड़ती है, जिससे old articles को link juice pass हो सके और साथ ही readers भी उन old posts को पढ़ें जिससे हमारे ब्लॉग का bounce rate reduce हो जाये। अभी तक हम manually old links को अपनी new post में insert करते थे, लेकिन अब हम आपको ऐसी plugin के बारे में बताने जा रहे हैं, जिससे ये काम automatically हो जाता है। मतलब थोडा time भी save होगा और work भी easy हो जायेगा।

Inline Related Posts plugin settings kaise kare

Inline Related Posts plugin se kya kar sakte hai ?

जैसा की आप जन ही गए होंगे कि यह एक plugin है जिसे उपयोग करके आप अपने ब्लॉग की old post को new post में internal links के रूप में easily insert कर सकते हैं। मतलब जो काम आप manually करते हैं उसे अब बिलकुल करने की जरुरत नहीं है, क्योंकि Inline Related Posts plugin को अपने blog पर setup करने के बाद, आप जब भी new article अपने blog पर publish करेंगे तो यह plugin automatically आपके ब्लॉग के old articles की link को insert कर देगी। जिससे आपका कीमती time और extra work load कम हो जायेगा। Because It is best related posts plugin.

जैसा की हम सब जानते हैं कि internal linking करना हमारे blog के search engine optimization के लिए बहुत जरुरी होता है। यदि आप किसी post में ये work नहीं करते हैं या avoid करते हैं तो ये आपकी post quality को poor बनाता है। इसलिए हमेशा every post में internal links insert करना बहुत ही जरुरी होता है।

Inline Related Posts plugin Features :

यहाँ पर हम इस plugin के कुछ खास features के बारे में आपको बताने जा रहे हैं, जिससे आपको मालूम चल जायेगा की इस plugin में आपको क्या क्या options मिलेंगे –

  1. Inline Related Posts plugin की मदद से आप अपने content के बीच में Related posts को insert कर सकते हैं।
  2. इसके द्वारा आप जितनी चाहे उतनी related posts को अपने content में automatically insert कर सकते हैं।
  3. इसमें ये भी बहुत अच्छी चीज दी गयी है कि ये automatically आपके content के paragraph को detect करके बिना line break किये related link को insert कर देती है।
  4. इसमें internal linking के लिए बहुत सारी themes, colors, hover style दिए गए हैं, जिनके माध्यम से अपनी internal linking की style या background style को अपने हिसाब से configure कर सकते हैं।

अब आप इसमें मिलने वाले options के बारे में पूरे तरीके परिचित हो गए हैं। अब आगे की तरफ बढ़ते हैं और बताते हैं कि Inline Related Posts plugin की settings कैसे करते हैं।

How to setup Inline Related Posts plugin ?

यदि आप भी अपने blog में auto internal linking करना start करना चाहते हैं, तो आप इस Inline Related Posts plugin settings tutorial watch कीजिये –

 

यदि आप वीडियो tutorial को follow करने में असमर्थ हैं तो आप हमारे द्वारा नीचे बताये गए steps को follow कीजिये –

Step – 1

  1. सबसे पहले Inline Related Posts plugin download करने के लिए yaha click कीजिये।
  2. अब अपने WordPress Dashboard को login करके इस plugin को install kar लीजिये। यदि आपको plugin install करना नहीं मालूम तो आप आगे बढ़ने से पहले इसे पढ़िए How to install wordpress plugins ? in Hindi.

अब में समझता हूँ कि आपने Inline Related Posts plugin अपने blog में successfully install कर ली होगी। और आगे के step में settings के बारे में पढ़िए।

Step – 2

inline related posts plugin settings options

  1. Settings में जाइये।
  2. Inline Related Posts पर click कर दीजिये।

अब आपके सामने plugin का settings page open हो जायेगा जिसमें आप अपने हिसाब customization कर सकते हैं। कैसे करते हैं उसके लिए next step follow कीजिये।

Step – 3

Style Settings :

inline related posts plugin style settings

  1. Active box पर click करके check mark कर दीजिये।
  2. Related text or Call-To-Action वाले field में आप “Read also” या “इसे भी पढ़िए ” या “Recommended” भी लिख सकते हैं। In my case में “इसे भी पढ़िए” use करता हूँ।
  3. Theme वाले option में आप अपने हिसाब से theme select kar लीजिये।
  4. Initial opacity % वाले option में 100% या अपने हिसाब से कम भी रख सकते हैं।
  5. CSS margin-top वाले option को default रहने दें या अपने हिसाब से value change कर सकते हैं।
  6. CSS margin-bottom वाले option को भी default रहने दें या अपने हिसाब से value change कर सकते हैं।
  7. Related Text Color वाले option से आप “Read also” या “इसे भी पढ़िए ” या “Recommended” text का color change कर सकते हैं।
  8. Post Title Color वाले option से आप internal link के post title का color change कर सकते हैं।
  9. Box Background Color वाले option से आप internal link का background color change कर सकते हैं।
  10. Border Color वाले option से आप internal link का background के border का color change कर सकते हैं।
  11. Display border shadow वाले box को un-check ही रखें।
  12. Display “Powered by” text (and show us some love 🙂 वाले box को un-check ही रखें।

Plugin Settings :

inline related posts plugin internal settings

  1. Insert in already existing posts? वाले box को check mark कर दें।
  2. How many boxes per single post? वाले option में आप ये set कर सकते हैं कि article में कितनी internal links या related links show करना चाहते हैं। सबसे अच्छा होगा इसे 3 set kar के रखें।
  3. Only posts of last N. days (set zero for no limits) वाले option में यदि आप 0 (zero) रखेंगे तो सभी old post में भी ये internal related post automatically show करने लगेंगीं। यदि चाहे तो days की संख्या को set करके भी use कर सकते हैं, जिससे यदि आप सिर्फ 20 days से पहले की old post से ही इसे show करना start करना चाहते हैं तो आप 20 या अपने हिसाब से set कर सकते हैं।
  4. Interval between the boxes वाले option से आप ये set कर सकते हैं कि कितने words के बाद first, second और third related links show हो। मेंने इसे 300 set करके रखा है।
  5. Insert a box at the end of the post? (if needed) के option को check mark करके ऐसा कर सकते है कि यदि कोई short post है, तो Inline Related Posts plugin अपने हिसाब से decide करके content के last में एक related link insert कर देती है। यदि में अपनी बात करूँ तो मेंने इसे check mark करके रखा है।
  6. Use on page वाले option box को check mark न करें।
  7. Use on post वाले option box को check mark कर दें।

Engine Settings :

inline related posts plugin engine settings

  1. Search similar posts वाले option में Using only Categories select करके रखें।
  2. Link “rel” attribute वाले option में dofollow select करके रखें।
  3. Link “target” attribute वाले option में _self select करके रखें।

Metabox integration :

inline related posts plugin metabox integration

  1. Integrate in “page” वाले option box को uncheck ही रहने दें।
  2. Integrate in “post” वाले option box को check mark कर दें।
  3. अब Save बटन पर click कर दीजिये।

Congratulation ! अब आपने Inline Related Posts plugin settings complete कर लीं हैं, अब आप अपनी post को open करके देखेंगे तो आपके content के बीच में related post show होती दिखायीं देंगीं।

मुझे उम्मीद है कि आपने Inline Related Posts plugin settings अच्छी तरह से कर ली होगी, यदि फिर भी कोई problem आती है तो आपको निराश होने की बिल्कुल जरुरत नहीं है आप हमसे comment के माध्यम से पूछ सकते हैं। यदि आपका contextual related posts से related कोई suggestion है तो वो भी हमारे साथ जरुर share करें। यदि आपको ये post valuable लगे तो social media पर share करना न भूलें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *