About us - Privacy Policy - Disclaimer - Contact us - Guest Posting

Link Cloaking kya hai, Aur ise Professional Blogger Kyo Use Karte Hai

हेलो दोस्तों, आज इस आर्टिकल में हम आपको बताने जा रहे हैं कि Link Cloaking क्या होती है और लगभग सभी Pro Bloggers अपनी पोस्ट में इसका use क्यों करते हैं ।  ‍‍जबकि मैने अपनी ‌पिछली ‍पोस्ट में आपको बताया था कि Affiliate Marketing क्या होती है इसके बारे में Basic knowledge आपको provide किया था । मुझे नहीं लगता कि आज के time में जितने भी बड़े हिंदी ब्लॉगर हैं, वो इसके बारे में जानते होंगे। क्योंकि मैने देखा है उन्होंने अपने ब्लॉग में इस चीज का किसी भी पोस्ट में उपयोग नहीं किया है और ना ही इसके बारे में कोई आर्टिकल या guide publish नहीं की है। इसका simple सा मतलब है कि सायद उन्हें link cloaking के बारे में किसी प्रकार कोई knowledge नहीं है । अब यदि Newbie कि बात करें तो उन्हें कैसे मालूम चलेगा जब कुछ high traffic blog owners को ही नहीं मालूम !

Link Cloaking kya hai

But don’t panic because in this post i’m going to share basic info about link cloaking. यदि में अपनी बात करू तो में आपको बता दूँ कि इसका उपयोग में बहुत पहले अपने past blog ( Bloggertips4u.com) कर चुका हूँ , शायद कुछ लोग इसके बारे में जानते भी होंगे। खैर छोडिये इन सब बातों को और अपने टॉपिक पर आते हैं, और जानते हैं कि link cloaking क्या है ?

What is link cloaking ?

ये एक ऐसी process होती है जिससे हम अपनी कोई भी link को Redirect करके main link के source को छुपा सकते हैं । I mean by the cloak link process you can hide your main source link URL. अब आपके mind में एक question जरुर आ रहा होगा कि किसी link के source या URL कि blogging में छुपाने कि क्या जरुरत है । जैसा कि में आपको थोडा सा ऊपर भी hint दे चुका हूँ कि इसे सबसे ज्यादा बड़े ब्लॉगर ही use करते हैं, क्योंकि ये method affiliated marketing के काम आती है और इसके बहुत सारे positive impact भी हैं। जिसके कारण इसे किसी भी ब्लॉगर जो affiliated marketing करता है उसके लिए बहुत ही important होती है। यदि हम इसे सीधे शब्दों में कहें तो इसके बिना affiliated marketing करना बहुत ही बेवकूफी वाला काम होता है।

Affiliate link cloaking क्या है ?

यह एक बहुत ही powerful way है जिससे हमें affiliated related किसी भी तरह कि Google penalty से नहीं गुजरना पड़ता है। जब हम किसी भी product को अपने ब्लॉग के माध्यम से promote करते हैं तो हमें मालूम है कि Advertiser के द्वारा हमें प्रत्येक product के लिए अलग अलग link provide कि जाती है । जोकि दिखने में normal URL से थोडा लम्बा url होता है, जो बिलकुल भी दिखने में smart URL नहीं लगता ।

इसे भी पढ़िए : Blog par Limit Login Attempts settings karke Hacking se kaise bachaye

और यदि इस तरह के product link को provide किये गए URL के साथ अपने ब्लॉग पर promote करेंगे तो ऐसा करना harmful होगा।  इसलिए जब हम product को promote करने के लिए review या आर्टिकल लिखते हैं तो उस प्रोडक्ट की affiliated link को link cloaking script के द्वारा उसके url को change कर देते हैं । इससे होने वाले फायदों के बारे में आपको आगे बताने वाला हूँ लेकिन उससे पहले हम आपको बताते हैं कि normal affiliated link और Affiliated cloak link में क्या difference होता है ? जिससे आपको समझने में आसानी हो जाएगी।

Cloak URL Example :-

Normal affiliated link :  http://www.bluehost.com/r.cfm?b=458621&u=5266552&m=5654&shared=&hosting=

Cloaked Link :  http://bloglon.com/go/bluehost-hostimg

Link cloaking ke kya profits hai ?

अभी तक आपके सामने suspense बना रहा कि आखिर इससे हमें क्या क्या फायेदे हो सकते हैं तो अब हम आपको बताने जा रहे हैं कि इससे कितने valuable profits होते हैं और क्यों इसे professional bloggers अपने ब्लॉग पर use करते हैं –

  • SEO : यदि आपने अपने ब्लॉग पर affiliated marketing स्टार्ट कर दी है या करने वाले हैं, तो जब आप कुछ advertiser से affiliate के रूप में partnership करते हैं तो आप देखेंगे कि उनके product को promotion link कुछ उल्टी सीधी सी दिखाई देगी या हो सकता है normal link मिल जाये । लेकिन चाहे आपको normal affiliated link मिले या लम्बे URL वाली, आपको दोनों cases में ही cloak link का use करना चाहिए।

क्योंकि जब आप कई सारे advertiser companies से जुड़ेंगे जो affiliate का option देते हैं तो ज्यादातर affiliated link poor quality कि होती हैं जिन्हें सर्च engine पसंद नहीं करता। अब यदि उन्हें आप without cloaking use करेंगे तो आपका ब्लॉग penalize हो जायेगा । और यदि आपका ब्लॉग पर google ने penalty लगा दी तो समझ लो आपके द्वारा की गयी दिन – रात की मेहनत बेकार हो सकती है।

इसे भी पढ़िए : Apne Blog me Widget Logic kaise use kare

Link cloaking से हम अपनी promotion link को hide करके उसे अपने ब्लॉग से related URL पर redirect कर देते हैं जिससे सर्च engine उस affiliated  link को read नहीं कर पता है । वैसे तो ये कहना गलत नहीं होगा की Google से कुछ नहीं छुप सकता । लेकिन फिर भी हमें cloaking उपयोग करनी चाहिए जिससे हमारा ब्लॉग unnatural link से होने वाले SEO loss से बचा रहे। I mean penalize होने का खतरा दूर रहे। इसलिए ये SEO benefit हमें cloaking से प्राप्त होता है।

  • Branded Link : जैसा कि में आपको ऊपर बता चुका हूँ कि Affiliated program offer करने वाली companies हमें lengthy और ugly link provide करते हैं । अब यदि आप link cloaking का use करते हैं तो आप प्रत्येक promotion link को एक Branded link बना सकते हैं ।
  • Hide promotion Link : इसका सबसे अच्छा प्रॉफिट ये भी है कि आप अपने visitors से उस affiliated link को hide कर सकते हैं जिससे उन्हें मालूम ही नहीं चलेगा कि ये प्रमोशनल link है या normal link है। और साथ में link url का look better show होगा, जिससे visitors का सीधा impact आपके ब्लॉग पर पड़ेगा।
  • Getting paid for every sale : cloak linking का उपयोग करके आप अपनी promotion link को catchy और Understable तो बना ही सकते हैं लेकिन साथ ही साथ affiliated link के द्वारा sale को भी अच्छी तरह track कर सकते हैं और every sale का commission earn कर सकते हैं ।
  • Protect affiliate ID : जब हम किसी भी promotional link को cloaking करके अपने ब्रांडेड link पर redirect करते हैं तो इससे आपकी affiliate ID hijack होने से बच जाती है क्योंकि जिस URL में ये ID होती है use हम cloaking से hide कर देते हैं और केवल branded link ही show होती है।

यदि आपकी affiliate ID hijack नहीं होगी तो आपकी sale के द्वारा generate होने वाला commission भी hijack होने से safe रहेगा । जिससे आपकी affiliated marketing लाइफ hopeful रहेगी।

  • Boost Content Quality : जैसा कि हम सब जानते हैं कि बहुत सारे affiliated program के ads link poor quality के होते हैं जिन्हें यदि आप directly अपने आर्टिकल में add करेंगे तो आपके content कि quality भी low हो जाएगी, जिससे आपके ब्लॉग का SEO भी harmful हो जायेगा।

इसलिए हम अपनी affiliated promotion को कम ना करते हुए link cloaking का उपयोग करते हैं जिससे सर्च engine उन ugly URL को ना देख पाए, और जिस link पर हम redirect करते हैं वो हमारे ब्लॉग address का ही एक पार्ट के रूप में होती है, जिससे सर्च engine और visitors, उस link को आपकी पोस्ट या page की ही link समझते हैं।

इसे भी पढ़िए : WordPress Blog Me SEO Ke Liye Robots.txt File Kaise Add Kare

अब आप जानना चाहते होंगे कि link cloaking कैसे कर सकते हैं ? तो में यहाँ पर सिर्फ थोडा सा आपको hint दूंगा कि link cloaking free है क्योंकि इसे आपको खुद script या link cloaking software का use करके configure करना होगा। इसलिए अगले article में आप how to cloak affiliate links for free without plugin के बारे में विस्तार से जानेंगे।

अब में उम्मीद कर सकता हूँ कि आपको अच्छे से समझ आ गया होगा कि Professional Bloggers अपने blog पर link cloaking क्यों use करते हैं । यदि आपको इस पोस्ट से रिलेटेड कोई suggestion या question है तो आप हमारे साथ comment के माध्यम से जरुर share करें, हम आपको जल्दी जवाब देने कि पूरी कोशिश करेंगे। यदि यह Affiliated related Guide आपको helpful लगी हो और आपको लगता हो कि इससे other Bloggers कि भी मदद हो सकती है, तो आप इसे सोशल मीडिया पर जरुर share करें।

Comments

  1. Reply

    • Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *